1. भारतीय संविधान की कौन-सी धारा भारत के राज्य की वाद योग्यता पर विचार करती हैं ?






Ask Your Doubts Here

Type in
(Press Ctrl+g to toggle between English and the chosen language)

Comments

Show Similar Question And Answers

Warning: mysqli_fetch_assoc() expects parameter 1 to be mysqli_result, bool given in /www/wwwroot/masterstudy.net/mdiscuss.php on line 1160
MCQ->भारतीय संविधान की कौन-सी धारा भारत के राज्य की वाद योग्यता पर विचार करती हैं ? ....
MCQ->भारतीय संविधान की कौन-सी धारा भारत के राज्य की वाद योग्यता पर विचार करती हैं ?....
MCQ->“सुमेलित कीजिए सूची I (भारत के संविधान के उपबन्ध) : सूची II (स्रोत) A. संविधान संशोधन : 1. जर्मनी का संविधान B. निदेशक तत्व : 2. कनाडा का संविधान C. राष्ट्रपति का आपात अधिकार : 3. दक्षिण अफ्रीका का संविधान D. संघ-राज्य सम्बन्ध : 4. आयरिश संविधान कूट A B C D ” ....
MCQ->मुद्रा कार्ड सें सम्बन्धित निमन कथनो ंपर विचार किजीए 1. इस कार्ड का शुभारम्भ ओरिएण्टल बैंक आफ कामर्स व्दारा माइक्रो उघमियों की कर्ज आवश्यकताओं को पूरा करने के उददेश्यसे किया गया 2. इस कार्ड केा 11 सितबर 2015 केा नई दिल्ली में सिडबी के चैयरमैन व प्रबन्ध निदेशक और मुद्रा बैंक के चैयरमन ने जारी किया उपरोक्त कथनों मे सें कौन-सा कथन सत्य है....
MCQ->“निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से संविधान सभा के गठन के बारे में सही है/हैं? 1. संविधान सभा के सदस्यों का चयन वर्ष 1946 के प्रान्तीय चुनावों के आधार पर किया गया था। 2. देशी राज्यों के प्रतिनिधियों की संविधान सभा में सम्मिलित नहीं किया गया। 3. संविधान सभा के भीतर विचार-विमर्श जनता द्वारा व्यक्त की गई रायों से प्रभावित नहीं होता था। 4. सामूहिक सहभागिता का भाव उत्पन्न करने के लिए जनता से सुझाव माँगे गए ” ....
Terms And Service:We do not guarantee the accuracy of available data ..We Provide Information On Public Data.. Please consult an expert before using this data for commercial or personal use | Powered By:Omega Web Solutions
© 2002-2017 Omega Education PVT LTD...Privacy | Terms And Conditions